Entertainment News

अमेरिका से ये पति-पत्नी आए भगवान भोलेनाथ की पूजा, अब सुबह से शाम तक करें सिर्फ महादेव की पूजा

TNN News,

भोलेनाथ के भक्त अपनी-अपनी मौज में रहते हैं। भोलेनाथ के भक्तों के बारे में कहा जाता है कि उनके पास कोई विचार नहीं होता है और वे बस लगातार भोलेनाथ की पूजा करते रहते हैं। हाल ही में भोलेनाथ के ऐसे दीवाने देखने को मिल रहे हैं जो भारत से नहीं बल्कि अमेरिका से भोलेनाथ की पूजा करने आते नजर आ रहे हैं. दरअसल, राजस्थान के जैसलमेर शहर में दो कपल ऐसे हैं जो भारत से नहीं बल्कि अमेरिका से हैं और ये भगवान भोलेनाथ की पूजा करने के लिए ही भारत आए हैं. जिसने भी इन दोनों कपल के बारे में ये बात सुनी है हर कोई हैरानी जता रहा है. आइए आपको मिलवाते हैं कौन हैं अमेरिका के ये कपल जो दिन भर भोलेनाथ की पूजा में मग्न रहते हैं और उन्हें बाकी दुनिया की कोई परवाह नहीं है।

यह जोड़ा अमेरिका से जैसलमेर में भगवान शिव की पूजा करने के लिए आया है, इस वजह से वे भगवान शिव की पूजा करते हैं

राजस्थान के जैसलमेर में इन दिनों लोगों का ध्यान लगातार एक दूजे की तरफ जा रहा है. दरअसल अमेरिका की रहने वाली कोलबा और उनकी पत्नी सामंथा इन दिनों भगवान शिव की पूजा करने के कारण चर्चा में आ गए हैं. दरअसल ये दोनों कपल साल में 3 महीने के लिए भारत आते हैं और इस दौरान वे प्रभु की भक्ति में इस कदर लीन रहते हैं कि उन्हें देश और दुनिया की परवाह ही नहीं रहती। कोलवा ने खुद बताया कि वास्तव में वह पहले अकेले भगवान शिव की पूजा किया करते थे लेकिन उसके बाद उनकी पत्नी सामंथा को भी भगवान शिव के महत्व के बारे में पता चला और सबसे पहले उनकी पत्नी ने महाभागवत गीता को पूरी तरह से पढ़ा। आइए आपको बताते हैं कि आखिर क्यों ये दोनों कपल तभी से प्रभु की भक्ति में लीन होने लगे और उन्होंने इस बात का जिक्र भी सबके सामने किया।

इस कारण दोनों भगवान शिव की पूजा करते हैं, ऐसा बताया जाता है कि इससे मन को शांति मिलती है

इन दिनों अमेरिका से राजस्थान के जैसलमेर में आया यह कपल अपनी भक्ति पूजा के कारण काफी चर्चा में है. जी दरअसल ये दोनों जोड़े भगवान शिव की पूजा करते हैं क्योंकि उनका मानना ​​है कि ऐसा करने से उनके मन को काफी शांति मिलती है. दोनों साथ में इस मौके पर यह भी कहते नजर आए कि भगवान शिव की पूजा करने के बाद उनके शरीर के अंदर एक अलग ही ऊर्जा का संचार होता है और तभी से दोनों ने फैसला किया कि साल के 3 महीने भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए. वे भारत आने के बाद भगवान शिव की पूजा जरूर करेंगे। दोनों ने बताया कि वे अमेरिका में रहते हुए भी भगवान शिव की पूजा करते हैं, लेकिन राजस्थान के जैसलमेर शहर में एक अलग ही शांति है और इस वजह से 3 महीने अमेरिका में अपना काम छोड़कर यहां आकर शिव की पूजा करते हैं. इनके अंदर ऊर्जा का संचार होता है।

#अमरक #स #य #पतपतन #आए #भगवन #भलनथ #क #पज #अब #सबह #स #शम #तक #कर #सरफ #महदव #क #पज

News Source

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button